October 7, 2022
Home » इतिहास साक्षी है कि अहंकार ने हमेशा सत्ताओं की बलि ली है

4 thoughts on “इतिहास साक्षी है कि अहंकार ने हमेशा सत्ताओं की बलि ली है

  1. ब्राह्मण जाति से नही होता कर्म से होता हैं।
    गीता में गया है पापी को मारना है तो पाप का सहारा लगाने से पाप नही लगता।।

  2. कर्मों के हिसाब से तो बहन मायावती क्षत्रिय हैं और बाबा साहेब अंबेडकर ब्राह्मण।

Leave a Reply

Your email address will not be published.